अगर पैसे वाले ही इस देश के भाग्यविधाता बनते तो झोपड़ी में जन्म लेने वाले श्री मुलायमसिंह यादव कभी मुख्यमंत्री और रक्षामंत्री नही बनते-इंजीनियर लख्मीचंद यादव।* – UP News Express

UP News Express

Latest Online Breaking News

अगर पैसे वाले ही इस देश के भाग्यविधाता बनते तो झोपड़ी में जन्म लेने वाले श्री मुलायमसिंह यादव कभी मुख्यमंत्री और रक्षामंत्री नही बनते-इंजीनियर लख्मीचंद यादव।*

😊 Please Share This News 😊

*अगर पैसे वाले ही इस देश के भाग्यविधाता बनते तो झोपड़ी में जन्म लेने वाले श्री मुलायमसिंह यादव कभी मुख्यमंत्री और रक्षामंत्री नही बनते-इंजीनियर लख्मीचंद यादव।

नेता सदैव अपने वोट बैंक को साधने के लिए लड़ाई लड़ता है लेकिन इंजीनियर लख्मीचंद यादव समाज के अस्तित्व को बचाने के लिए जंग लड़ते है।

वही नेता हर हाई लाइट मामलों में सिर्फ और सिर्फ विरोध की राजनीति करके अपने आप को चमकाते हैं,तो वही इंजीनियर लख्मीचंद यादव दीन दुखियों के बीच जाकर उनकी इंटरनल मदद करके उन्हें हर बड़ी विपत्तियों से बचा लेते हैं।

दोस्तो जो सच मे नेता होता है वो लोगो को हमेशा कमजोर करने का ही काम करता है वो लोगो की कभी भी मदद नही करता वही इंजीनियर लख्मीचंद यादव हमेशा कमजोर लोगो को ताकत देने का काम करते है।

जाटों,गुजरो,राजपूतों और ब्राह्मणों में हर बड़ा फैसला उनकी पंचायत तय करती हैं जो अपनी अपनी बिरादरियों के बड़े नेताओ पर पूरा कंट्रोल रखते हैं।

*लेकिन हमारे यादव समाज मे तो सभी नेता एकदम से बेलगाम है,वो भी जो यादव बिरादरी की वोट लेते हैं।*

और जो 5000 हजार यादव संगठन देश मे बने हुए है वो भी हाथी के दांत ही है,वो सब भी एक नही है ना वो समाज का कोई बड़ा छोटा काम करने व करवाने में सक्षम है क्योकि वो सब नेताओ के यहां अपना जमीर गिरवी रखकर नेताओ की अर्दली बजाकर अपने निजी काम साधने में जुटे हुए हैं जिन्हें समाज से रत्तीभर भी कोई हमदर्दी और सहानुभूति नही है ।

इस लिए अब हमारा यादव समाज भी इन सभी 5000 हजार यादव संगठनों से दूरी बना रहा है क्योकि ये सिर्फ और सिर्फ नेताओ की कठपुतली बनकर और नेताओं के गुलाम बनकर रह गए हैं अब ये सिर्फ नेताओ के गलो में माला डालने तक ही सीमित बनकर रह गए है इस लिए इन सभी संगठनो को यादव समाज ने अब नकार दिया है।

वही जब से भारतीय जनसेवा मिशन सामाजिक संगठन की नींव रखी गयी है तब से कोई भी नया यादव इन यादव संगठनों का सदस्य तक भी नही बना है सच मे ये भी महत्वपूर्ण बात है।

*अगर हमारा प्रयास सच्चा है तो हम हर हाल में रचेंगे एक दिन इतिहास और यदि हमारा प्रयास झूठा है तो हम लाख प्रयत्न करने के बाद भी नही रच पाएंगे इतिहास यही कटु सत्य है।*

*संघर्ष और जनसेवा है हमारा लक्ष्य।*

*इंजीनियर लख्मीचंद यादव राष्ट्रिय अध्य्क्ष भारतीय जनसेवा मिशन सम्पर्क-9927530581।*

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]

लाइव कैलेंडर

December 2021
M T W T F S S
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
2728293031  
error: Content is protected !!