घटिया अधिकारी कर रहे पत्रकारों की पिटाई, मुख्यमंत्री सो रहे कुंभकरण की नींद – UP News Express

UP News Express

Latest Online Breaking News

घटिया अधिकारी कर रहे पत्रकारों की पिटाई, मुख्यमंत्री सो रहे कुंभकरण की नींद

😊 Please Share This News 😊

संत कबीर नगर उत्तर प्रदेश                                                                                                                                                                रामानंद तिवारी

यू0पी0 न्यूज़ एक्सप्रेस उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त संपादक प्रमोद यादव व समाजसेवी आलँ इंडिया मीडिया प्रभारी रामा नन्द तिवारी ,अनिल शर्मा, परशुराम यादव,यू0पी0 न्यूज़ एक्सप्रेस की समस्त टीम ने पीड़ित पत्रकार की उठाई आवाज भारत सरकार माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी जी माननीय उत्तर प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी से की मांग ऐसे अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से हटा कर उन पर उचित कार्रवाई की जाए और उन्हें भी संविधान के तहत दंड देकर जेल भिजवाया जाए और आए दिन पत्रकारों पर शासन-प्रशासन गुंडे माफिया या नेता द्वारा पत्रकारों का हनन अभद्र भाषा का प्रयोग और मारपीट फर्जी फंसाया जाता है इस पर एक नया कानून पास कराया जाए महोदय इस पर ध्यान दें वरना यू0पी0 न्यूज़ एक्सप्रेसके सभी पदाधिकारी पूरे भारत में धरना प्रदर्शन करेंगे इसकी जिम्मेदार स्वयं सरकार खुद होगी औरउन्नाव जनपद के CDO दिव्यांशु पटेल की बेशर्म हरकत चुनाव कवरेज के दौरान पत्रकार पर किया

हमला CDO के साथ ही विशेष पार्टी के गुंडों ने भी पत्रकार पर किया हमला पुलिस की मौजूदगी में सीडीओ ने किया उपद्रव CDO दिव्यांशु पटेल इस से पहले भी रहे हैं विवादित बाराबंकी जनपद में एसडीएम रहते हुए मस्जिद गिरवाने का है उन पर आरोप मस्जिद मामले में शासन स्तर पर उनके खिलाफ गठित की गई है जांच कमेटी हाईकोर्ट में भी दिव्यांशु पटेल के खिलाफ चल रही है सुनवाई और मीडिया पर हमला पत्रकार चारो तरफ खा रहा मार योगी सरकार को देना पड़ेगा जवाब लखनऊ- एक तरफ योगी सरकार दावे पे दावे करती जा रही है की उत्तर प्रदेश मे क्राइम ग्राफ बहुत कम हुआ है। पर वहीं आये दिन पत्रकारो पर हो रहे हमले साफ जाहिर करते हैं कि क्राइम केसेज कम नही बल्की बढ़त हासिल करती जा रही है। अब जरा सोचिए की जब देश का चौथा स्तंभ कहा जाने वाला मीडिया जगत के पत्रकार सुरक्षित नही है कवरेज के दौरान उन पर हमला कर दिया जाता है मारा पीटा जाता है पुलिस प्रशासन मूकदर्शक बनी रहती है तो आम आदमी कितना सुरक्षित होगा शायद इस बात को बिना बताये ही समझ जाना चाहिए। आज के बार फिर उन्नाव के मियागंज से एक विडियो वायरल हो रहा है जिसमे एक पत्रकार खबर कवर कर रहा था कि अचानक से एक सरकारी अधिकारी उस पत्रकार पर ऑन कैमरे पर ही झापड़ो की बौछार कर देता है जबकि भारी संख्या मे पुलिस बल भी तैनात दिखाई पड़ रही है। अब उत्तर प्रदेश मे शायद इसी तरह की तस्वीर देखने को मिलती रहेगी कही न कही योगी सरकार पत्रकार के साथ अभद्र व्यवहार मार-पीट हमला करने वालो का मनोबल बढाकर पत्रकार के साथ सौतेला व्यवहार करती नजर आ रही है। अभी एक सप्ताह नही हुआ होगा लखनऊ देवरिया उन्नाव कानपुर जैसे शहरो मे पत्रकार पर हमला मारपीट व अभद्र व्यवहार की तस्वीर देखने को मिली है पर कार्रवाई कितनो पर हुई इसका कोई डाटा अभी तक उपलब्ध नही है। यदि मीडिया जगत के पत्रकार पर उत्तर प्रदेश में इसी तरह हमला होता रहा तो शायद इसका नकारात्मक असर योगी सरकार पर दिखाई पड़ेगा जिससे नुकसान भी हो सकता है। और क्राइम भी बढ़ने का अनुमान हो सकता है जो पत्रकार कलम चला सकता है लोगो की आवाज बन कर शासन-प्रशासन को अपराध भ्रष्टाचार से जुड़ी खबर पंहुचा सकता है वो अपनी मान सम्मान बचाने के लिए हथियार भी उठा सकता है। ये कोई भ्रामक खबर नही है बल्की शासन-प्रशासन को अवगत कराने के लिए संदेश है कि एक पत्रकार भी अपना घर परिवार छोड़कर अपनी जान जोखिम मे डाल कर निस्वार्थ भाव से कार्य करके सभी को हर छोटी बड़ी खबर से रूबरू कराता है। इस लिये पत्रकार की सुरक्षा करना शासन-प्रशासन का फर्ज बनता है

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

Donate Now

[responsive-slider id=1466]

लाइव कैलेंडर

October 2021
M T W T F S S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
error: Content is protected !!